SECTION 77 IPC - Indian Penal Code - Act of Judge when acting judicially

IPC Section 77

Description of IPC Section 77

According to section 77 of Indian penal code, Nothing is an offence which is done by a Judge when acting judicially in the exercise of any power which is, or which in good faith he believes to be, given to him by law.

आईपीसी की धारा 77 क्या है

न्यायिकतः कार्य करते हुए न्यायाधीश का कार्य
विवरण

भारतीय दंड संहिता की धारा 77 के अनुसार, कोई बात अपराध नहीं है, जो न्यायिकतः कार्य करते हुए न्यायाधीश द्वारा ऐसी किसी शक्ति के प्रयोग में की जाती है, जो या जिसके बारे में उसे सद््भावपूर्वक विश्वास है कि वह उसे विधि द्वारा दी गई है ।

Prev Next